अगर तेज धूप में झुलस गए हैं पौधे, तो सिर्फ 10 रुपए खर्च करके उन्हें दोबारा से बनाए हरा-भरा

Use of Alum in Garden : अगर आपको भी पेड़ पौधे लगाना का शौक है, तो यकीनन गर्मी का सीजन शुरू होते ही आपको परेशानियों का सामना करना पड़ता होगा। दरअसल गर्मी के मौसम में धूप काफी तेज होती है, जिसकी वजह से अक्सर पेड़, पौधे और फूल बुरी तरह से झुलस जाते हैं।

ऐसे में अगर तेज धूप और गर्म लू ने आपके गार्डन के पेड़ पौधों को भी झुलसा कर नुकसान पहुँचाया है, तो आप महज 10 रुपए खर्च करके पौधों को दोबारा से जीवन प्रदान कर सकते हैं। इस उपाय से न सिर्फ पेड़ पौधे ठीक हो जाएंगे, बल्कि उनकी हरियाली और रौनक भी लौट आएगी।

फिटकरी से करें पौधों की सेहत दुरुस्त

फिटकरी एक ऐसी चीज है, जिसका इस्तेमाल सेविंग से लेकर चोट को ठीक करने के लिए किया जाता है। लेकिन शायद आप यह नहीं जानते होंगे कि फिटकरी का इस्तेमाल गार्डनिंग के लिए भी किया जाता है, जो जले या झुलसे हुए पेड़, पौधों को ठीक करने में मददगार साबित हो सकती है। इसे भी पढ़ें – बाजार से नहीं खरीदने होंगे महंगे नींबू, घर पर इन 2 आसान तरीकों से लगाए नींबू का पौधा

हालांकि पेड़ पौधों के लिए फिटकरी का इस्तेमाल करते वक्त खास सावधानी बरतने की जरूरत पड़ती है, जो गार्डनिंग में फर्टिलाइजर के तौर पर काम करती है। फिटकरी को आप बाज़ार से आसानी से खरीद सकते हैं, जिसकी कीमत 10 से 20 रुपए की बीच होती है।

फिटकरी से बने पानी से पौधों की सिंचाई

अगर गर्मी की वजह से आपके गार्डन के पेड़ पौधे और फूल झुलस गए हैं, तो उन्हें ठीक करने के लिए आप फिटकरी से बनी खाद का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए एक लीटर पानी में फिटकरी डालकर एक घोल तैयार कर लिजिए, जिसे आप पौधों की सिंचाई कर सकते हैं।

अगर फिटकरी से बने पानी से पेड़ पौधों की सिंचाई की जाए, तो उनकी सेहत बिल्कुल ठीक हो जाती है। हालांकि इस दौरान आपको इस बात का ध्यान रखना होगा कि फिटकरी का पानी पौधों के पत्तों या फूलों पर न पड़े, क्योंकि ऐसा होने पर फूल और पत्ते जल सकते हैं।

फिटकरी से बनाए खाद

इसके अलावा आप फिटकरी से खाद भी तैयार कर सकते हैं, इसके लिए खाद में फिटकरी का पाउडर बनाकर मिक्स कर दीजिए और फिर उस खाद को मिट्टी के साथ मिलाकर गमले में डाल दीजिए। ऐसा करने से फिटकरी के पोषक तत्व मिट्टी और खाद के जरिए पौधों को मिल जाते हैं, जिससे उन्हें ठीक होने में मदद मिलती है।

कीड़े मकौड़ों को दूर रखती है फिटकरी

अगर गमले के आसपास चींटियाँ और कीड़े मकौड़े लगने की समस्या रहती है, तो इसे आप फिटकरी की मदद से दूर कर सकते हैं। इसके लिए गमले के पास फिटकरी का एक छोटा-सा टुकड़ा रख दीजिए, जिसकी खुशबू पाकर चींटियाँ और कीड़े गमले के आसपास नहीं आते हैं।

हालांकि फिटकरी का इस्तेमाल करते वक्त आपको इस बात का ध्यान रखना होगा कि पेड़ पौधों की पत्तियाँ या फूल फिटकरी या उसके पानी के सीधा संपर्क में न आए, जिससे उनके जलने का खतरा बना रहता है। वहीं अगर आप फिटकरी का इस्तेमाल ध्यान से करेंगे, तो इससे पेड़ पौधों की सेहत हमेशा अच्छी बनी रहेगी। इसे भी पढ़ें – घर पर गमले में आसानी से उगा सकते हैं तेजपत्ता का पौधा, बस फॉलो करें ये आसान टिप्स