घर पर गमले में आसानी से उगा सकते हैं तेजपत्ता का पौधा, बस फॉलो करें ये आसान टिप्स

How to Grow Bay Leaf Plant at Home : भारतीय डिशज़ दुनिया भर में मशहूर हैं, जिन्हें बनाने के लिए तरह तरह के मसालों का इस्तेमाल किया जाता है। यह मसाले न सिर्फ खाने का स्वाद बढ़ाते हैं, बल्कि उसमें एक स्वादिष्ट खुशबू को बरकरार रखने में भी मददगार साबित होते हैं। ऐसा ही एक मसाला है तेजपत्ता, जिसे तड़के लिए इस्तेमाल किया जात है।

तेजपत्ता वेज से लेकर नॉनवेज तक हर तरह की डिश का जायका बढ़ाने का काम करता है, जबकि इसकी खुशबू पूरे घर को महका देती है। ऐसे में आप चाहे तो अपनी कीचन गार्डन में फ्रेश तेजपत्ता उगा सकते हैं, जिसके तड़के से नॉर्मल सी दाल और सब्जी का स्वाद कई गुना तक बढ़ाया जा सकता है।

best ways to grow tej patta plant at home

गमले में आसानी से उगाए तेजपत्ता | Tips to grow tej patta plant at home

शहरों में कीचन गार्डन का ट्रेंड काफी तेजी से फल फूल रहा है, जिसमें कीचन में इस्तेमाल होने वाले धनिया, पुदीना, मिर्च और टमाटर जैसी सब्जियों को गमले में आसानी से उगाया जा सकता है। ऐसे में अगर आप भी कीचन गार्डनिंग का शौक रखते हैं, तो आप गमले में आसानी से तेजपत्ता उगा सकते हैं। इसे भी पढ़ें – घर पर आसानी से उगाए पारिजात का पौधा, बेहतरीन खुशबू के साथ कई बीमारियों से मिलेगा छुटकारा

तेजपत्ता का पौधा लगाने के लिए आपको एक मध्यम या बड़े आकार का मिट्टी का गमला खरीदना होगा, इसके बाद आपको मिट्टी और खाद को अच्छी तरह से आपस में मिक्स करके गमले के अंदर भरना होगा। इसके बाद मिट्टी से भरे गमले को लगभग 1 से 2 दिन तक धूप में रख दें, ताकि उसके अंदर मौजूद कीड़े मकौड़े खत्म हो जाए।

इसके बाद आपको गमले के बीचों बीच मिट्टी में 2 से 4 इंच का गड्ढा करना होगा और उसमें तेजपत्ता का पौधा लगाकर उसकी जड़ों को मिट्टी से अच्छी तरह से ढक दें, फिर पौधे में हल्के हाथों से पानी छिड़क दीजिए। तेजपत्ता का पौधा किसी भी नर्सरी में आसानी से मिल जाएगा, जिसे आप घर पर लाकर गमले में लगा सकते हैं।

इस तरह गमले में तेजपत्ता का पौधा लगाने के बाद उसे रोजाना सीमित मात्रा में धूप दिखानी होती है, जबकि इस पौधे में बराबर मात्रा में पानी भी डालते रहना पड़ता है। हालांकि आपको इस बात का ध्यान रखना होगा कि गमले में अतिरिक्त पानी इकट्ठा न हो, क्योंकि उस स्थिति में तेजपत्ता के पौधे की जड़े सड़ने लगती हैं।

how to grow bay leaf plant in pot

कुछ ही महीनों में तैयार हो जाएंगे पौधा

इस तरह सही देखभाल करते रहने से 3 से 4 महीने के अंदर तेजपत्ता का पौधा अच्छी तरह से विकसित हो जाता है, जबकि उसके पत्ते भी फैलने लगते हैं। ऐसे में बढ़ते हुए पौधे को बरसात के मौसम में कीड़े मकौड़े की पकड़ से बचाए रखना बेहद जरूरी है, जिसके लिए आप तेजपत्ता के पौधे पर कीटनाशक का छिड़काव कर सकते हैं।

लेकिन अगर आप बाजार से कीटनाशक खरीदना नहीं चाहते हैं, तो आप घर पर ही नीम के पत्तों का पानी या नींबू के रस से बने प्राकृतिक कीटनाशक को भी पौधे पर छिड़क सकते हैं, जिससे तेजपत्ता पर कीड़े मकौड़े नहीं लगते हैं और पौधा अच्छी तरह से विकसित होने लगता है। इसे भी पढ़ें – अपने बगीचे में ही उगा सकते हैं केमिकल रहित ककड़ी का पौधा, जानिए तरीका

bay leaf plant

तेजपत्ता की देखभाल और रखरखाव

तेजपत्ता के पौधे को बहुत ज्यादा देखभाल की जरूरत नहीं होती है, लेकिन जब यह पौधा 2 से 3 फीट लंबा हो जाता है तो कुछ हफ्तों के अंतराल में इसकी मिट्टी की हल्के हाथों से खुदाई करते रहना चाहिए। इसके साथ ही पौधे की मिट्टी में समय समय पर खाद भी डालते रहना चाहिए, जिससे पौधा लंबे समय तक जीवित रहता है।

तेजपत्ता के पौधे को बहुत ज्यादा पानी या धूप में नहीं रखना चाहिए, क्योंकि यह दोनों ही चीजें इसे नुकसान पहुंचा सकती है। इसलिए गर्मी के मौसम में तेजपत्ता को कम धूप या छाया वाली जगह पर रखना चाहिए, जबकि बरसात के मौसम में इसके गमले में पानी को जमा होने से रोकना चाहिए। इसके अलावा गमले में उगने वाली अतिरिक्त जंगली घास को साफ करते रहना चाहिए, जिससे तेजपत्ता जल्दी बढ़ता है।

इस तरह छोटी छोटी बातों का ध्यान रखकर आप घर पर ही तेजपत्ता उगा सकते हैं, जिसे आप सूखाकर या सीधा पौधे से तोड़कर तड़के के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं। तेजपत्ता की खुशबू से आपकी बालकनी या घर के आसपास मच्छर और मक्खी जैसे कीड़े मकौड़े नहीं घूमेंगे, जबकि इसके तड़के से आपके सामान्य खाने का स्वाद कई गुना तक बढ़ जाएगा।

इसे भी पढ़ें –  गर्मी से हो जाता है बुरा हाल, तो लगाएं ये 6 पौधे जो आपके घर को रखेंगे ठंडा-ठंडा कूल-कूल