HomeGARDENINGटेरेस गार्डन से घर की खूबसूरती में लगाए चार चांद बस ध्यान...

टेरेस गार्डन से घर की खूबसूरती में लगाए चार चांद बस ध्यान में रखनी है कुछ ज़रूरी बातें

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now

आजकल घरों की छतों पर टेरेस गार्डन (Terrace Gardening) बनाने का क्रेज बढ़ता जा रहा है। यह सब जानते हैं कि बढ़ते प्रदूषण को रोकने के और इसके कारण होने वाले नुक़सान से बचने के लिए हरे भरे पौधे आवश्यक है क्योंकि पेड़ पौधों से हमें शुद्ध हवा मिलती है। शहरों में कम जगह होने की वज़ह से लोग छतों पर गार्डन बनाकर अपनी गार्डनिंग के शौक को पूरा कर रहें हैं।

ये भी पढ़ें – सिर्फ 24 की उम्र में ही अनुभव ने अपने छत पर उगाए कई मसाले, फूल, सब्जी और फल, खिला रहे मुहल्ले को भी

भागदौड़ भरे जीवन में हरियाली व ग्रीनरी मन को सुकून तो देती ही है साथ ही टेरेस गार्डनिंग के जरिए छत पर कई सब्जियाँ व एलोवेरा, मनी प्लांट व औषधीय पौधे लगाकर बागवानी के शौक को भी पूरा किया जा सकता है।

टेरेस गार्डन (Terrace Gardening) घर को सुंदर व आकर्षक बनाने के साथ-साथ शुद्ध हवा और ठंडक भी देता है। आजकल वायु प्रदूषण के शिकार सभी उम्र के लोग हो रहे हैं इसलिए इससे बचने के लिए अपने गार्डन में हवा को शुद्ध रखने वाले पौधे लगाएँ। आप भी अगर बागवानी का शौक रखते हैं तो टेरेस गार्डनिंग है आपके लिए है एक बेहतर विकल्प बस ध्यान में रखनी है कुछ ज़रूरी बातें-

सीलन से बचाना है आवश्यक: टेरेस गार्डन को सीलन से बचाना ज़रूरी है, इसके लिए आप छत को थर्मोप्लास्टिक व रबर में ब्रेन से भी कवर कर सकते हैं।

मज़बूत छत: टेरेस गार्डनिंग का मतलब है छत पर गार्डनिंग इसलिए छत का मज़बूत होना आवश्यक है।

Drainage system ‌का रखे ख़ास ख्याल: छत पर गार्डन बनाने के लिए पानी की निकासी होना आवश्यक है, क्योंकि पौधों के कारण हमेशा नमी बनी रहती है और नमी की वज़ह से घर की दीवारें कमजोर हो सकती हैं।

प्लास्टिक बैग का अधिक करें उपयोग: टेरेस गार्डन के लिए प्लास्टिक बैग्स को ज़्यादा इस्तेमाल करें। इससे कम बजट में गार्डिंग हो सकती है और छत पर अधिकार भार भी नहीं पड़ेगा।

हैंगिंग गमलो और बास्केट को प्राथमिकता दें: टेरेस गार्डनिंग के माध्यम से घर को सुंदर बनाया जा सकता है इसके लिए हैगिंग गमलो और बास्केट में पौधे लगाए जा सकते हैं।

धूप है ज़रूरी: छत पर पौधों को ऐसी जगह लगाएँ जहाँ अच्छी धूप आती हो। क्योंकि पौधों के लिए के लिए 4-5 घंटे की धूप आवश्यक है। जिन पौधों को कम धूप की आवश्यकता होती है उनके लिए भी शेड भी बना सकते है।

मिट्टी का रखें विशेष ध्यान: छत पर अगर गार्डनिंग करनी है तो मिट्टी का विशेष ध्यान दें सब्जियों, फूल-पौधों व शो प्लांट्स के लिए अलग-अलग मिट्टी की आवश्यकता होती है इसलिए मिट्टी का विशेष ध्यान दें।

इस तरह छोटी-छोटी बातों को ध्यान में रखकर आप अपने टेरेस गार्डन (Terrace Gardening) को खूबसूरत बना सकते हैं।

ये भी पढ़ें – Gardening- बिना मिट्टी के भी उगा सकते है ये 8 क़िस्म के फुल, सिर्फ पानी में ही उगते है ये फुल के पौधे

यह भी पढ़ें
News Desk
News Desk
तमाम नकारात्मकताओं से दूर, हम भारत की सकारात्मक तस्वीर दिखाते हैं।

Most Popular