Suryakumar Yadav Biography : कभी रिश्तेदार मारते थे ताना, माता-पिता के साथ और छठ पूजा के आशीर्वाद से चमक उठी किस्मत

Suryakumar Yadav Biography : इन दिनों पूरी दुनिया में टी-20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup 2022) की धूम मची हुई है, जिसमें भारतीय टीम के खिलाड़ी सूर्य कुमार यादव (Suryakumar Yadav) खूब सुर्खियाँ बटौर रहे हैं। सूर्य कुमार यावद की दमदार बल्लेबाजी के दम पर भारत हारता हुआ मैच भी जीत जाता है, जिसकी वजह से उन्हें टीम इंडिया का मिस्टर 360 कहा जाता है।

हालांकि सूर्य कुमार यादव (Suryakumar Yadav) के इस चमकते हुए करियर के पीछे उनकी मेहनत और उनके माता-पिता की दुआएँ छिपी हुई हैं, जिसकी वजह से आज हर कोई सूर्य कुमार यादव का फैन है। लेकिन एक वक्त ऐसा भी था जब सूर्य कुमार यादव का क्रिकेट करियर अच्छा नहीं चल रहा था, जिसकी वजह से उन्हें और उनके माता-पिता को लोगों के ताने सुनने पड़ते थे। Suryakumar Yadav Biography in Hindi

कभी रिश्तेदारों के ताने सुनते थे सूर्य कुमार

भारतीय क्रिकेट टीम के मिस्टर 360 कहलाने वाले सूर्य कुमार यादव (Suryakumar Yadav) मैदान में चौके और छक्कों की बारिश करते हुए नजर आते हैं, लेकिन कुछ समय पहले तक सूर्य कुमार यादव को अपने करियर के चलते रिश्तेदारों के ताने सुनने पड़ते थे। उनके रिश्तेदारों का कहना था कि क्रिकेट की वजह से सूर्या की जिंदगी और करियर बर्बाद हो रहा है, लेकिन सूर्या ने उनकी बातों पर कभी ध्यान नहीं दिया।

रिश्तेदारों की बातें सुनकर अक्सर सूर्य कुमार यादव (Suryakumar Yadav) के माता-पिता दुखी हो जाते थे, लेकिन एक दिन सूर्या के कोच ने उनके पिता से कहा कि आपका बेटा बहुत होनहार है और एक दिन कुछ करके दिखाएगा। इसके बाद सूर्या के पिता ने रिश्तेदारों की बातों पर ध्यान नहीं दिया और अपने बेटे के साथ डटकर खड़े रहे।

इतना ही नहीं सूर्या की माँ स्वप्ना देवी भी उनका बहुत ज्यादा सपोर्ट करती हैं, जिसकी वजह से उन्हें अपनी माँ से गहरा लगाव है। सूर्य कुमार यादव किसी भी मैच से पहले अपनी माँ का आर्शीर्वाद जरूर लेते थे, जबकि घर से दूर होने की स्थिति में वह मैच से पहली माँ से फोन पर बात करते हैं और उनका आशीर्वाद लेते हैं।

सूर्य कुमार यादव (Suryakumar Yadav) का अपने माता-पिता के लिए प्रेम साफ तौर पर दिखाई देता है, क्योंकि उन्होंने अपनी बाजू पर माता-पिता की तस्वीर वाला टैटू गुदवाया है जिसे जिम करते वक्त सूर्य कुमार यादव के हाथ में देखा जा सकता है। सूर्या का कहना है कि उनके क्रिकेट करियर को आगे बढ़ाने में उनके माता-पिता का अहम योगदान है।

छठ पूजा में बेटे के लिए मांगी थी मन्नत

सूर्य कुमार यादव (Suryakumar Yadav) के क्रिकेट करियर के चमकने के पीछे छठ पूजा को भी अहम माना जाता है, क्योंकि सूर्या की माँ ने अपने बेटे की कामयाबी के लिए 7 साल पहले छठ पूजा का व्रत शुरू किया था। उस वक्त सूर्य की माँ गाजीपुर के हथौड़ा गाँव में रहती थी, जहाँ उन्होंने सूर्य के भारतीय टीम में सिलेक्ट होने के लिए पहली बार छठ पूजा का व्रत रखा था।

यह छठ माई और सूर्य की माँ की दुआ का असर था कि आईपीएल में सूर्य कुमार यादव की अच्छी पारी को देखते हुए उनका चुनाव भारतीय क्रिकेट टीम में कर लिया गया था। इसके बाद सूर्य कुमार यादव का बल्ला समय-समय पर अपना कमाल दिखाता रहा, जबकि साल 2022 के टी-20 वर्ल्ड कप के दौरान उनके दमदार शॉट्स ने हर किसी को हैरान कर दिया है।

आपको बता दें कि टी-20 वर्ल्ड कप 2022 (T20 World Cup 2022) में सूर्य कुमार यादव (Suryakumar Yadav) का नाम सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ियों की लिस्ट में शामिल हो चुका है, जिसमें वह तीसरे पायदान पर मौजूद हैं।

सूर्य कुमार यादव (Suryakumar Yadav) किसी भी दिशा में शॉट मारकर चौका या छक्का बटौर लेते हैं, जबकि उनका स्ट्राइक रेट 193 के आसपास रहता है। आज सूर्य कुमार यादव का बेहतरीन प्रदर्शन देखकर ताने मारने वाले रिश्तेदार भी उनकी वाहवाही करते हैं।

इसे भी पढ़ें –

इस देसी फूड के दीवाने हैं Suryakumar Yadav, देखने के बाद बिना खाए नहीं रह पाते हैं

वर्ल्ड कप में बेहतरीन प्रदर्शन के बाद Suryakumar Yadav पर पैसों की हो रही है बारिश, लखपति से बन गए करोड़पति

सूर्यकुमार यादव को नहीं पता था कि वह दुनिया के T20 के नंबर 1 बल्लेबाज हैं, एंकर ने बताया तो हो गए अचंभित