7 साल की उम्र में अपनी ही रिश्तेदार को दिल दे बैठे थे वीरेंद्र सहवाग, दिलचस्प है प्रेम कहानी

क्रिकेट जगत में वीरेंद्र सहवाग (Virender Sehwag) का नाम बहुत ही सम्मान के साथ लिया जाता है, जो अपने वक्त के दमदार बल्लेबाज हुआ करते थे। वीरेंद्र सहवाग खेल के मैदान में जितने ज्यादा सख्त थे, प्यार के मामले में उनका दिल बहुत ही नाजुक और मासूम था।

शायद आपको यह पता नहीं होगा कि वीरेंद्र सहवाग (Virender Sehwag) ने अपनी ही रिश्तेदारी में शादी की थी, जबकि उनकी लव स्टोरी 7 साल की उम्र में शुरू हो गई थी। वीरू अपनी फ्यूचर वाइफ से एक शादी समारोह में मिले थे, जबकि उस वक्त वह दोनों छोटे बच्चे थे।

रिश्तेदार को दिल दे बैठे थे वीरू

वीरेंद्र सहवाग (Virender Sehwag) और उनकी पत्नी आरती अहलावत (Aarti Ahlawat) की पहली मुलाकात बचपन में हुई थी, उस वक्त वीरू की उम्र 7 साल थी जबकि आरती महज 5 साल की थी। वीरेंद्र के कजिन भाई और आरती की बुआ की शादी एक दूसरे से हुई थी और इसी दौरान वीरू और आरती पहली बार एक दूसरे से मिले थे, जिसके बाद उनकी दोस्ती हो गई।

Read Also: घरवालों को बिना बताए सौरभ गांगुली ने की थी कोर्ट मैरिज, मिलिए दादा की पत्नी, बेटी, भैया-भाभी और पूरे परिवार से

आरती की बुआ वीरू की भाभी लगती थी, जिसकी वजह से आरती का वीरू और आरती के परिवार के बीच एक रिश्ता बन गया था। ऐसे में उन दोनों की शादी होने का चांस बहुत ही कम थे, लेकिन बचपन की दोस्ती कब क्या में बदल गई इस बात की भनक वीरू और आरती को भी नहीं हुई थी।

ऐसे में 15 साल बाद वीरेंद्र सहवाग ने मजाक-मजाक में आरती को शादी के लिए प्रपोज कर दिया था, जबकि आरती ने उनके प्रपोजल को तुरंत स्वीकार लिया। वीरू को उम्मीद नहीं थी कि आरती शादी के लिए गंभीरता से हाँ कर देगी, लेकिन आरती के जवाब ने उन्हें हौंसला दिया और इस तरह उन दोनों की लव स्टोरी शुरू हुई।

Read Also: 7 एकड़ में फैला हुआ महेंद्र सिंह धोनी का लग्जरी फार्म हाउस, इनसाइड तस्वीरें आई सामने

परिवार वाले नहीं थे शादी के लिए तैयार

वीरू और आरती ने 2 साल तक एक दूसरे को डेट किया, जिसके बाद उन्होंने अपने परिवार वालों के सामने शादी की बात रखी। लेकिन वीरू के कजिन भाई और आरती की बुआ की आपस में शादी हुई थी, इसलिए परिवार के लोग वीरू और आरती की शादी के लिए नहीं मान रहे थे क्योंकि उनका मानना था कि यह शादी रिश्तेदारी में हो रही है।

लेकिन वीरू और आरती ने हार नहीं मानी और अपने परिवार को मानने की कोशिश करते रहे, जिसके बाद आखिरकार दोनों के परिवार वाले मान गए थे। इस तरह साल 2004 में वीरेंद्र सहवाग ने आरती अहलावत से शादी कर ली थी, जबकि वर्तमान में इस कपल के दो बेटे भी हैं।

Read Also: किसी राजमहल से कम नहीं है क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर का घर, देखिये घर के अंदर की शानदार तस्वीरें