6 साल बाद DSP बनी महिला कॉन्स्टेबल, गर्भवस्था के दौरान कर रही थी परीक्षा की तैयारी

Woman constable Babli became now DSP: अगर इंसान सच्चे मन से किसी चीज को पाने की चाह करता है, तो उसके रास्ते में चाहे कितनी ही परेशानियाँ क्यों न आ जाए वह अपनी मंजिल को हासिल कर के रहता है। ऐसा ही चौंका देने वाला कारनामा कर दिखाया है बिहार पुलिस में डीएसपी के पद पर कार्यरत बबली ने, जिन्होंने 6 साल तक कॉन्स्टेबल के रूप काम किया था।

DSP Babli Kumari

महिला कॉन्स्टेबल बनी DSP

बिहार के बेगूसराय जिले से ताल्लुक रखने वाली बबली (Babli Kumari) पुलिस उपाधीक्षक यानी DSP के पद पर तैनात हैं, जबकि इससे पहले उन्होंने 6 साल तक राज्य पुलिस में बतौर कॉन्स्टेबल अपनी सेवाएँ दे रही थी। बबली के लिए कॉन्स्टेबल से डीएसपी के पद तक पहुँचना बिल्कुल भी आसान नहीं थी, लेकिन उन्होंने मेहनत और संघर्ष का दामन नहीं छोड़ा। इसे भी पढ़ें – सास-ससुर और पति की मौत के बाद भी नहीं मानी हार, न्यायिक सेवा परीक्षा में हासिल किया 88वां रैंक

बबली ने साल 2015 में बतौर कॉन्स्टेबल बिहार पुलिस में ज्वाइनिंग की थी, जिसके बाद उनकी शादी गया जिले में रहने वाले रोहित कुमार से हो गई। बबली अपने परिवार में सबसे बड़ी बेटी थी, लिहाजा उनके ऊपर शादी से पहले भी परिवार की आर्थिक जिम्मेदारी थी।

शादी के बाद भी बबली ने सरकारी प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारियाँ जारी रखी, हालांकि उन्हें पहले 2 प्रयासों में सफलता नहीं मिल पाई थी। इस दौरान बबली गर्भवती हो गई, लेकिन उन्होंने गर्भावस्था के बीच भी पढ़ाई जारी रखी और उसके परिणामस्वरूप तीसरे प्रयास में उन्हें परीक्षा पास करने में सफलता मिल गई।

इसके बाद बबली ने इंटरव्यू पास किया और ट्रेनिंग के बाद उन्हें डीएसपी पद की जिम्मेदारी सौंप दी गई, वर्तमान में बबली बेगूसराय के पुलिस लाइन में कार्यरत हैं। बबली की मेहनत और लगन को देखते हुए बेगूसराय के एसपी योगेंद्र कुमार ने उन्हें सम्मानित किया थ, जबकि मिठाई खिलाकर बबली को सफलता के लिए बधाई दी। इसे भी पढ़ें – माँ के निधन के बाद पिता ने घर से निकाला, बेटी ने नाना नानी के साथ रहकर बनी बिहार टॉपर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here