अपने जीवन पर बायोपिक नहीं बनाना चाहते हैं मिथुन चक्रवर्ती, जानें क्यों कही इतनी बड़ी बात

बॉलीवुड में डिस्को डांसर के रूप में अलग पहचान बनाने वाले एक्टर मिथुन चक्रवर्ती (Mithun Chakraborty) को कौन नहीं जानता है, जो अपने दौर के सबसे बेहतरीन कलाकारों में से एक थे। आज भले ही मिथुन चक्रवर्ती फिल्मों में न के बराबर काम करते हैं, लेकिन वह अक्सर छोटे पर्दे पर रियलिटी शोज़ को जज करते हुए दिखाई देते हैं।

ऐसे में हाल ही में मिथुन चक्रवर्ती और पद्मिनी कोल्हापुरे को ज़ी टीवी के शो-सा रे गा मा पा लिटिल चैंप्स में बतौर गेस्ट इंवाइट किया गया था, जिसमें मिथुन चक्रवर्ती ने अपने मन की इच्छा जाहिर करते हुए यह कहा कि मैं अपने जीवन पर कोई बायोपिक बनते हुए नहीं देखना चाहता हूँ।

अपनी बायोपिक क्यों नहीं चाहते हैं मिथुन?

मिथुन चक्रवर्ती (Mithun Chakraborty) दूसरे एक्टर्स की तरह अपने जीवन पर आधारित फिल्म नहीं बनवाना चाहते हैं, क्योंकि उनका कहना है कि मैंने अपने जीवन में बहुत कुछ झेला है और मैं नहीं चाहता हूँ कि किसी और को इसका सामना करना पड़े। इतना ही नहीं मिथुन चक्रवर्ती को त्वचा के रंग की वजह से भी कई सालों तक अपमानित किया गया था, जिसकी वजह से वह बायोपिक के माध्यम से दोबारा ये सब नहीं देखना चाहते हैं।

मिथुन चक्रवर्ती ने फिल्मी दुनिया में खूब नाम और शोहरत कमाई है, लेकिन एक वक्त ऐसा भी था जब उनके पास खाना खाने के लिए पैसे नहीं होते थे और उन्हें फुटपाथ पर रात गुजारनी पड़ती थी। भूखे पेट होने की वजह से मिथुन को नींद नहीं आती थी, जिसकी वजह से उन्हें मानसिक और शारीरिक पीड़ा से गुजना पड़ा था।

मिथुन चक्रवर्ती (Mithun Chakraborty) का कहना है कि मेरी कहानी-कहानी किसी को प्रेरित नहीं करेगी, बल्कि दर्शकों को मानसिक रूप से तोड़ देगी और उन्हें अपने सपने पूरे करने में हताशा महसूस होगी। इसलिए मिथुन चक्रवर्ती चाहते हैं कि उनकी जिंदगी पर कोई बायोपिक न बने, क्योंकि दर्शक उसे देखकर निराश या हताश महसूस कर सकते हैं।

मिथुन चक्रवर्ती (Mithun Chakraborty) के जीवन से जुड़े संघर्ष के बारे में जानने के बाद-सा रे गा मा पा लिटिल चैंप्स के सेट पर मौजूद सभी दर्शक, जज और बच्चे भावुक हो गए थे, जबकि मिथुन ने सभी बच्चों को अपने सपने पूरे करने के लिए प्रोत्साहित भी किया। आपको बता दें कि-सा रे गा मा पा लिटिल चैंप्स का 9वां सीजन चल रहा है, जिसमें शंकर महादेवन, अनु मलिक और नीति मोहन बतौर जज नजर आ रहे हैं।