गरीबों का मसीहा: यह पुलिस वाला पिछले 15 सालों से गरीबों में कंबल और गर्म कपड़े बांट रहा है

    दिसम्बर और जनवरी में पड़ने वाले ठंड से ना जाने कितने ग़रीब और बेसहारा लोगों की मौत हो जाती है और इसके पीछे की वज़ह होती है उनके पास कंबल या गर्म कपड़ों की कमी। लेकिन कोई ऐसा भी है जो अपने निस्वार्थ कर्मों से उन गरीबों और बेसहारा लोगों का मसीहा बन चुका है और पिछले 15 वर्षों से वह ऐसे लोगों के बीच कंबल और गर्म कपड़े बांटने का काम कर रहे हैं।

    यूपी के बुलंदशहर के रहने वाले विनय त्यागी (Inspector Vinay Tyagi) जो कि दक्षिण जिले के कोटला मुबारकपुर थाने में थानाध्यक्ष के पद पर तैनात हैं। पिछले 15 सालों से विनय त्यागी हर सर्दी के मौसम में रोज़ रात में निकल गरीब और बेसहारा लोगों के बीच कंबल और गर्म कपड़े बांटने का काम कर रहे हैं। अब तो उन्हें सारे लोग गरीबों का मसीहा भी कहते हैं। इंस्पेक्टर विनय त्यागी 1995 में सबसे पहले दिल्ली पुलिस में आए थे।

    वर्तमान समय में मुबारकपुर थाने में थानाध्यक्ष के पद पर तैनात विनय त्यागी की गिनती दिल्ली पुलिस के काफ़ी तेज तर्रार जवानों में होती है। उनके पास स्पेशल सेल में काम करने का काफ़ी लंबा अनुभव है। लोग उन्हें एन काउंटर स्पेशलिस्ट इंस्पेक्टर के रूप में भी जानते हैं, क्योंकि अब तक विनय त्यागी 30 से अधिक एन काउंटर कर चुके हैं।

    रिपोर्ट से मिली जानकारी के अनुसार विनय त्यागी हर रोज़ गरीबों और असहाय लोगों को कंबल और गर्म कपड़ों को बांटने के लिए पूरे साल पैसे इकट्ठा करते हैं। ताकि वह पूरे ठंड भर हर रोज़ रात में निकल कर उनकी मदद कर सके। विनय त्यागी ने बताया कि उनका यही प्रयास रहता है कि कोई भी गरीब या असहाय लोग ठंड के कारण मरे नहीं।

    इस तरह इंस्पेक्टर विनय त्यागी इंसानियत का धर्म निभा रहे हैं, जिससे कई गरीब लोगों को अब तक फायदा हुआ है।