बैंक मैनेजर से रिटायर होने के 4 साल बाद क्रैक किया NEET एग्जाम, 64 की उम्र में MBBS में लिया दाखिला

एक कहावत है ना जब जागो तभी सवेरा! अगर आपके मन में किसी चीज के लिए ललक है तो उम्र की कोई सीमा नहीं होती। इस बात को सच साबित कर दिखाया जय किशोर प्रधान (Jai Kishore Pradhan) ने, जिन्होंने 64 की उम्र में NEET की परीक्षा पास कर MBBS में एडमिशन लिया है।

ओडिशा के बारगढ़ के रहने वाले 3 बच्चों के पिता जय किशोर प्रधान, जिनकी उम्र वर्तमान में 64 साल है। जय किशोर प्रधान जो कि स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में डिप्टी मैनेजर के पद पर कार्यरत थें। बैंक से रिटायर होने के 4 साल बाद प्रधान ने NEET की परीक्षा दी और उस परीक्षा में सफलता भी हासिल की। अब सफलता हासिल करने के बाद उन्होंने MBBS कोर्स में दाखिला लिया है। आपको बता दें तो उन्हें बुर्ला के वीर सुरेंद्र साई इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस एंड रिसर्च (Veer Surendra Sai Institute Of Medical Sciences And Research) में एडमिशन मिला है।

Jai-Kishore-Pradhan-cracked-neet-exam

जय किशोर प्रधान ने बैंक में पूरे 40 साल तक नौकरी किया है। लेकिन बचपन से उनका सपना एक डॉक्टर बनने का था। किसी कारणवश वह अपने इस सपने को पूरा नहीं कर सके। लेकिन-लेकिन रिटायरमेंट के 4 साल बाद इनके डॉक्टर बनने का सपना पूरा हुआ।

जय किशोर प्रधान ने बताया कि छात्र जीवन में इन्होंने बैंक के साथ-साथ मेडिकल के लिए एंट्रेंस एग्जाम भी दिया था लेकिन उस समय सफलता हासिल नहीं कर सके और घर की भी मजबूरी थी कि जय किशोर अपने घर में सबसे बड़े थे और आर्थिक स्थिति को ठीक रखने के लिए इन्हें बैंक की नौकरी करनी पड़ी। इस तरह इन्होंने 1983 में स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में ज्वाइन कर नौकरी करनी शुरू कर दी।

जय किशोर प्रधान इस उम्र में भी अपने सपने को पूरा कर बहुत खुश हैं। उन्हें इस बात से कोई फ़र्क़ नहीं पड़ता कि उनकी उम्र कितनी है।