व्यापारी को मिला 16 नाखून वाला कछुआ, माना जाता है बहुत शुभ

0
6783

कुछ दिनों पहले नेपाल में सुनहरे रंग का कछुआ मिला था। इसके बाद अब भारत में मध्य प्रदेश के बैतूल में एक अनोखे प्रकार का कछुआ मिला है। यह दुर्लभ प्रजाति का कछुआ अपने काले रंग के कारण ब्लैक शेड के नाम से जाना जाता है।

वैश्विक बाज़ार में इसकी क़ीमत बहुत अच्छी खासी बताई जा रही है। वास्तु के अनुसार भी इसे बहुत शुभ बताया जा रहा है। बताया जा रहा है कि यह गुडलक चार्म होता है, इसे घर में रखने से सुख शांति आती है। ये भी पढ़ें – पडोसी देश नेपाल में दिखा अनोखा सुनहरा कछुआ, मना जा रहा है भगवान विष्णु का अवतार

यह कछुआ खाता है घास

(pc-intoday.in)

इस कछुए में यह खासियत है कि यह घास खाता है। यह कछुआ पानी में ज़्यादा नहीं रहता बल्कि ज़मीन पर चलता है। इस 16 नाखून वाले कछुए के एक पंजे में 4 नाखून होते है। इसे घर में रखना गैर कानूनी होता है।

कारोबारी को मिला अनोखा कछुआ

बैतूल में रहने वाले कारोबारी ब्रिज कपूर को यह अनोखा कछुआ मिला है। ब्रिज कपूर का कहना है कि बारिश के दौरान उन्हें यह कछुआ पानी में बहता हुआ सड़क पर आ गया था। सड़क के किनारे से ब्रिज इस अनोखे कछुए को वे आपने साथ अपने घर ले आये।

वन विभाग को लौटा दिया कछुआ

(pc-intoday.in)

ब्रिज कपूर इस कछुए को अपने साथ अपने घर ले आये। इस कछुए को अपने घर लाये हुए ब्रिज को पूरे 10 दिन हो चुके हैं। ब्रिज का कहना है कि 10 दिनों तक इस कछुए को घर में रख कर उन्हें यह लगा कि घर पर रख कर इसका सही प्रकार से विकास नहीं हो सकता।

इसलिए ब्रिज ने इस कछुए को वन विभाग की टीम के हवाले सौंप दिए है उन्होंने आगे बताया की, यह जानते हुए की यह कछुआ बहुत शुभ होता है, लेकिन इसके बाद भी उसकी सही देखभाल के लिए उसे वन विभाग की टीम को दे दिया।

वहाँ के वनरक्षक चंद्रशेखर ने इस बात की पुष्टि की है कि यह कछुआ कारोबारी ब्रिज कपूर के यहाँ से प्राप्त हुआ है। इस दुर्लभ कछुए को नदी में छोड़ दिया जाएगा।

ये भी पढ़ेंबनना चाहते हैं अमीर तो पहनिए कछुए की अंगूठी, जानिए क्या फायदे हैं इसके और कौनसी राशि के लोग ना पहनें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here