इन हिल स्टेशनों में मिलेगी पर्यटकों की भारी भीड़, गलती से भी न करें ट्रिप प्लान

इन दिनों भारत गर्मी की लहर दौड़ रही है, ऊपर से गर्म हवाएं और लू लोगों की मुश्किलें बढ़ाने का काम कर रही हैं। ऐसे में कई लोग गर्मी की छुट्टियां (Summer Vacation) हिल स्टेशन (Hill Station) में बिताने की प्लानिंग कर रहे होंगे, जहां का मौसम मई के महीने में भी ठंडा और सुकून भरा होता है।

लेकिन हम आपको बता दें कि हिल स्टेशन (Hill Station) में आप जिस सुकून और ठंडी जलवायु के लिए जाना चाहते हैं, वहां पर्यटकों की भारी भीड़ पहले ही जमा हो चुकी होगी। ऐसे में आज हम आपको उन फेमस हिल स्टेशनों के बारे में बताने जा रहे हैं, जहां इस वक्त छुट्टियां मनाने के लिए जाना आपकी सबसे बड़ी गलती साबित हो सकती है।

शिमला (Shimla)

दिल्ली और एनसीआर में रहने वाले लोगों के लिए गर्मी की छुट्टियां (Summer Vacation) बिताने के लिए शिमला सबसे पहली पसंदीदा जगह बन चुका है, जहां सीजन की शुरुआत में ही पर्यटकों का आना जाना शुरू हो जाता है। ऐसे में अगर आप इस मौसम में शिमला की ठंडी जलवायु का आनंद उठाने के मकसद से जाते हैं, तो वहां आपको लोगों की भारी भीड़ देखने को मिलेगी। इसे भी पढ़ें – ये है भारत के सबसे ठंडे हिल स्टेशन, जहां गर्मी के मौसम में भी दिख जाती है बर्फ

ऐसे में न तो आप ठंडे मौसम का लुफ्त उठा पाएंगे और न ही सुकून भरी छुट्टियां बिता पाएंगे, जिसकी वजह से आपका शिमला जाना लगभग बेकार ट्रिप साबित होगा। आप शिमला की जगह हिमाचल प्रदेश में स्थित कसौली और चैल जैसे हिल स्टेशनों की रूख कर सकते हैं, जहां पर्यटकों की कम भीड़ होती है।

मसूरी (Mussoorie)

दिल्ली से 210 किलोमीटर की दूरी पर स्थित मसूरी उत्तराखंड के सबसे मशहूर हिल स्टेशनों में से एक है, जहां गर्मी से लेकर सर्दी के मौसम तक पर्यटकों की भारी भीड़ इकट्ठा होती है। ऐसे में गर्मी के मौसम में मसूरी में ट्रिप प्लान करना बिल्कुल खराब आइडिया हो सकता है, क्योंकि वहां इस वक्त खाली रूम मिल पाना ही बहुत मुश्किल हो जाता है।

ऐसे में अगर आप गर्मी की छुट्टियों में सुकून और शांति चाहते हैं, तो उत्तराखंड में स्थित औली का रूख कर सकते हैं। इसके अलावा आप धनौल्टी और कनातल घूमने का प्लान भी बना सकते हैं, जहां मसूरी के मुकाबले पर्यटकों की भीड़भाड़ कम होती है।

लेह (Leh)

अगर आपको लगता है कि मई के महीने में लेह घूमने जाना एक अच्छा आइडिया साबित हो सकता है, तो आप बिल्कुल गलत हैं। क्योंकि देश भर में एडवेंचर्स ट्रिप करने वाले लोगों की कमी नहीं है, जो ऑफ रोडिंग के लिए लेह जाना पसंद करते हैं। इसे भी पढ़ें – दिल्ली के पास स्थित खूबसूरत ‘मोरनी हिल्स’ हैं घूमने का शानदार डेस्टिनेशन, भूल जायेंगे उत्तराखंड और हिमाचल के पहाड़

ऐसे में आपको इस वक्त लेह में पर्यटकों की भारी भीड़ मिल सकती है, जो आपके ट्रिप को यादगार बनाने के बजाय उसे बिगाड़ने का काम करेगी। इससे बेहतर होगा कि आप हिमाचल प्रदेश में स्थित स्पीति घाटी में शानदार हॉली-डे प्लान कर लें, जहां ठंडी जलवायु और शांति दोनों का आनंद उठाया जा सकता है।

कुफरी (Kufri)

हिमाचल प्रदेश में स्थित कुफरी एक बहुत ही खूबसूरत हिल स्टेशन है, जो दिन ब दिन पर्यटकों के बीच फेमस होता जा रहा है। ऐसे में इस सीजन में कुफरी जाने वाले पर्यटकों की कोई कमी नहीं होगी, जिसकी वजह से आपका ट्रिप चुटकियों में खराब हो सकता है।

ऐसे में अगर आप भीड़भाड़ से दूर ऊंचे ऊंचे पहाड़ों का खूबसूरत नजारा देखना चाहते हैं, तो आपको कुफरी के बजाय मशोबरा और नाहन जैसे छोटे गांवों की तरफ जाना चाहिए। इन जगहों का मौसम काफी ठंडा रहता है, जहां आपको ठहरने के लिए कॉटेज आराम से मिल जाएंगे और आपको भीड़भाड़ का सामना भी नहीं करना पड़ेगा।

नैनीताल (Nainital)

उत्तराखंड में स्थित नैनीताल दिल्ली और एनसीआर में रहने वाले लोगों के लिए सबसे बेहतरीन हिल स्टेशन बन चुका है, जहां कम समय में आसानी से पहुंचा जा सकता है। लेकिन इस वक्त नैनीताल जाना बहुत बड़ी गलती साबित हो सकता है, क्योंकि यहां जमा भीड़ की वजह से न तो आप प्राकृतिक नजारों का लुफ्त उठा पाएंगे और न ही नैनी झील में बोटिंग कर पाएंगे। इसे भी पढ़ें – 3 दिन के ट्रिप में घूमे पूरा ऋषिकेश, पहाड़ों और झरनों का अद्भुत नजारा जीत लेगा आपका दिल

इससे बेहतर है कि आप नैनीताल जाकर अपना मूड खराब न करें और नैनीताल से लगभग 50 से 60 किलोमीटर की दूरी पर स्थित भीमताल, रानीखेत और अल्मोड़ा जैसे हिल स्टेशनों का रूख कर लें। इन जगहों के बारे में पर्यटकों को ज्यादा जानकारी नहीं है, जिसकी वजह से यहां नैनीताल जैसी भारी भीड़ इकट्ठा नहीं होती है।

धर्मशाला (Dharamshala)

हिमाचल प्रदेश में स्थित धर्मशाला में इस वक्त पर्यटकों की भारी भीड़ मौजूद होगी, जिसकी वजह से वहां जाने का आइडिया बिल्कुल भी अच्छा नहीं होगा। इससे बेहतर है कि आप अपनी फैमिली या पार्टनर के साथ खजियार और पार्वती घाटी घूमने के लिए जा सकते हैं, जहां आपको प्रकृति के मनमोहक नजारों के साथ साथ ठंडी जलवायु का आनंद उठाने का मौका मिलेगा।

डलहौजी (Dalhousie)

शहरी लोगों के लिए डलहौजी गर्मियों की छुट्टियां बिताने के लिए बेहतरीन टूरिस्ट डेस्टिनेशन है, जहां इस वक्त भारी भीड़ देखने को मिलेगी। ऐसे में न तो आपको यहां कमरे मिल पाएंगे और न ही शांति, इसलिए बेहतर होगा कि आप डलहौजी न जाकर पालमपुर और खजियार घूमने का प्लान बना लें।

कसोल (Kasol)

हिमाचल प्रदेश में स्थित कसोल एक बहुत ही खूबसूरत और शांति भरा हिल स्टेशन है, जहां इस वक्त पर्यटकों का शोर शराबा वादियों में गूंज रहा होगा। ऐसे में अगर आप कसोल घूमने की प्लानिंग कर रहे हैं, तो हम आपको बता दें कि वहां जाने पर आपको सिवाए भीड़ भाड़ के कुछ और नजर नहीं आएगा। इसे भी पढ़ें – महज 40 हजार रुपए में प्लान करें मालदीव का ट्रिप, पार्टनर के साथ बिताए क्वालिटी टाइम

इससे बेहतर होगा कि आप कसोल के आसपास मौजूद मलाना जैसे छोटे छोटे गांव में छुट्टियां बिता लें, जहां असीम शांति के साथ साथ ठंडी जलवायु और ट्रेडिशनल डिशज़ का लुफ्ट उठाया जा सकता है। इन गांवों में घूमना काफी बजट फ्रेंडली साबित हो सकता है, जहां आप अपने परिवार और पार्टनर के साथ क्वालिटी टाइम बिता सकते हैं।

तो ये थे भारत के वो फेमस हिल स्टेशन, जहां गर्मी के सीजन में पर्यटकों की भारी भीड़ इकट्ठा होती है। ऐसे में अगर आप पहाड़ों में शांति, सुकून और ठंडी जलवायु के लिए जाना चाहते हैं, तो आर्टिकल में बताई गई जगहों पर जाने से परहेज करें और नई जगहें एक्सपोर करें।