रोचक जानकारी – ये हैं देश के पांच सबसे बड़े रेलवे स्टेशन, जानें इनकी खूबियां

रेलवे स्टेशन पर तो आप अपने जीवन में कई बार गए होंगे और रेल से यात्रा भी अनेक बार की होगी। लेकिन शायद ही आपने कभी सोचा होगा कि भारत का इतना बड़ा रेल नेटवर्क कैसे खड़ा है? भारत रेलवे सिस्टम के मामले में दुनिया में चौथे नंबर पर आता है और भारत के पास फिलहाल 114, 500 किलोमीटर का विशाल रेलवे नेटवर्क है। जिसे भारत का अकेला रेल मंत्रालय (मिनिस्ट्री ऑफ रेलवे) संभालने का कार्य करता है।

हांलाकि, संभालने में आसानी रहे इसके लिए रेल मंत्रालय ने इसे बहुत से जोनों में बांटा हुआ है। भारत में फिलहाल लगभग 7500 रेलवे स्टेशन मौजूद हैं। इनमें से कुछ रेलवे स्टेशन ऐसे भी हैं जिनका इतिहास बेहद पुराना रहा है। आज हम आपको ऐसे ही देश के पांच सबसे पुराने रेलवे स्टेशनों की वह अनोखी बातें बताने जा रहे हैं जो आपको चौ/का देगीं।

1 – हावड़ा जंक्शन (कलकत्ता)

हावड़ा जंक्शन अंग्रेजों के काल में बनकर खड़ा हो गया था। इसलिए यहाँ आप अक्सर मेंटेनेंस का काम होते देख सकते हैं। हावड़ा जंक्शन पर फिलहाल 23 प्लेटफार्म मौजूद हैं और यहाँ से 25 रेलवे लाइन गुजरती है। लॉकडाउन से पहले की बात करें तो यहाँ तकरीबन रोजाना 10 लाख यात्री आते-जाते थे। लेकिन अब ये संख्या बेहद कम हो गई है। यदि आप फ़िल्मों के शौकीन हैं तो आपने फ़िल्मों में अक्सर हावड़ा जंक्शन को कई बार देखा होगा। क्योंकि कलाकार शूटिंग के लिए अक्सर इस स्टेशन को ही चुनते हैं। इस रेलवे स्टेशन को कलकत्ता की शान भी कहा जाता है।

2 – सियालदह रेलवे स्टेशन (पश्चिम बंगाल)

हावड़ा जंक्शन की तरह ये रेलवे स्टेशन भी अग्रेजों के ज़माने से ही बनकर खड़ा है। इसे बने हुए फिलहाल 158 साल के करीब हो गए हैं। ये भारत का दूसरा सबसे बड़ा रेलवे जंक्शन है। इस पर से भी रोजाना लाखों यात्री अपने मंज़िल की तरफ़ आने जाने का काम करते हैं। हांलाकि, इतना व्यस्त और ऐतिहासिक होने के बावजूद देश में लोग इसे कम ही जानते हैं। इस स्टेशन पर 21 प्लेटफार्म और 27 रेलवे ट्रैक हैं। जिनपर से दिनभर रेल गाडियाँ इधर से उधर आती जाती रहती हैं और यात्रियों को अपनी मंज़िल तक पहुँचाती हैं।

3 – छत्रपति शिवाजी टर्मिनल (मुंबई)

इस रेलवे स्टेशन से तो आप बखूबी जानते ही होंगे। क्योंकि इस स्टेशन की चर्चा अक्सर राष्टीय स्तर पर समाचार चैनलों में होती रहती है। ये स्टेशन भी अपने आप में ऐतिहासिक है। ये स्टेशन आपने बहुत बार अक्सर फ़िल्मों में भी देखा होगा। क्योंकि ये स्टेशन देखने में किसी महल की तरह दिखाई पड़ता है। मायानगरी में होने के चलते अक्सर कलाकर इसे फ़िल्मों की शूटिंग के लिए चुन लेते हैं।

इसे पहले “विक्टोरिया टर्मिनस” के नाम से जानते थे, पर अब इसका नाम बदलकर छत्रपति शिवाजी टर्मिनल कर दिया गया है। छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस में न सिर्फ़ इंट्रास्टेट और इंटरसिटी ट्रेन्स चलती हैं, बल्कि यहाँ से मुंबई लोकल भी चलती है। इस स्टेशन पर हर वक़्त आप भीड़ देख सकते हैं और लॉकडाउन के बाद भी यहाँ पर उसी तरह लोगों की आवाजाही बनी हुई है। इस स्टेशन पर 18 प्लेटफार्मों के साथ यहाँ से बहुत सारे रेलवे ट्रैक भी गुजरते हैं।

4 – नई दिल्ली रेलवे स्टेशन

इस स्टेशन को देश-विदेशों तक में लोग जानते हैं। क्योकि भारत की राजधानी होने के साथ जब भी विदेशी लोग भारत में घूमने आते हैं तो इस स्टेशन से ही वह दूसरे राज्यों की यात्रा करते हैं। इसलिए इस स्टेशन पर अक्सर विदेशी लोग दिखाई पड़ना आम बात है। यह उत्तर भारत का सबसे व्यस्त रेलवे स्टेशन है और यहाँ से लगभग 400 ट्रेनें रोजाना गुजरती है। ख़ास बात ये है कि यहाँ से गुजरने वाली हर ट्रेन यहाँ ज़रूर रूक कर गुजरती है। कमाई की बात करें तो यह स्टेशन देश में सबसे ज़्यादा कमाई वाला रेलवे स्टेशन भी है। नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के एक विंग से दिल्ली मेट्रो के ट्रैक्स भी जाते हैं जो इसे और भी ख़ास बनाता है। ये स्टेशन काफ़ी आधुनिक भी है। यहाँ पर 16 प्लेटफार्म हैं और 18 रेलवे ट्रैक मौजूद हैं।

5 – चेन्नई रेलवे स्टेशन

चेन्नई रेलवे स्टेशन बहुत ही बड़ा और चेन्नई शहर का मुख्य रेलवे स्टेशन है। ये चेन्नई को कोलकता, नई दिल्ली, मुंबई आदि स्टेशनों से जोड़ता है। चेन्नई महानगर होने के चलते लोग इसे बेहद अच्छी तरह परिचित हैं। हर रोज़ यहाँ से लगभग 5.5 लाख लोग इस स्टेशन से यात्रा करते हैं। ये भारत के सबसे बिजी रेलवे स्टेशन्स में से एक है। इस रेलवे स्टेशन की बनावट भी पुराने ज़माने की ही है और यहाँ से आपको भारत के हर हिस्से के लिए कोई न कोई ट्रेन तो मिल ही जाएगी। यहाँ पर 17 प्लेटफार्म के साथ 30 रेलवे ट्रैक मौजूद हैं।