अब ATM से कैश निकालने के लिए होगी मोबाइल फोन की जरुरत, जानें SBI का नया नियम वरना फंस जायेंगे पैसे

SBI New Rules: बीते कुछ सालों में नेट बैंकिंग और एटीएम का इस्तेमाल काफी ज्यादा बढ़ गया है, जिससे ग्राहकों को बैंक से जुड़े काम पूरे करने में काफी सुविधा होती है। हालांकि तकनीकी के विकास के साथ ही ठगी और धोखाधड़ी के मामलों में भी वृद्धि हो रही है, जिसकी वजह से एटीएम से पैसे निकालना काफी जोखिम भरा हो गया है।

ऐसे में ग्राहकों की सुविधा का ध्यान रखते हुए स्टेट बैंक ऑफ इंडिया यानी SBI ने नया नियम बनाया है, जिसके तहत एटीएम से पैसे निकालते वक्त ग्राहक को ओटीपी दर्ज करना होगा। अगर ग्राहक बिना ओटीपी दर्ज किए पैसे निकालने की कोशिश करता है, तो उसके लेनदेन को रद्द कर दिया जाएगा।

ATM से पैसे निकालने के लिए दर्ज करें OTP

एसबीआई के नए नियम के तहत एटीएम से नकद पैसे निकालने के लिए ग्राहक को मशीन में ओटीपी (वन टाइम पार्सवर्ड) दर्ज करना होगा, जिसके बाद उसके लेनदेन की प्रक्रिया को पूरा किया जाएगा। बैंक की तरफ से यह नियम इसलिए बनाया गया है, ताकि एटीएम के जरिए होने वाली धोखाधड़ी पर लगाम लगाई जा सके। Read Also: 1 दिसंबर से बदल जाएंगे ये 4 जरूरी नियम, 30 नवंबर से पहले निपटा ले, सीधा आपकी जेब पर होगा असर

ऐसे में अगर कोई एसबीआई ग्राहक एटीएम से पैसे निकालना चाहता है, तो उसे एटीएम मशीन में पिन नंबर और धनराशि एंटर करने के बाद ओटीपी भी दर्ज करना होगा। यह ओटीपी बैंक की तरफ से ग्राहक के रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर भेजा जाएगा, जिसे दर्ज करने के बाद ही लेनदेन की प्रक्रिया पूरी होगी।

हालांकि बैंक ने यह नियम 10 हजार से अधिक रुपए की निकासी पर लागू किया है, यानी अगर आप 10 हजार रुपए से कम पैसे एटीएम से निकालते हैं तो उस स्थिति में आपको ओटीपी दर्ज करने की जरूरत नहीं होगी। लेकिन 10 हजार या उससे ज्यादा रुपए की निकासी पर ओटीपी नियम लागू होता है, जिसके बिना आप एटीएम से पैसे नहीं निकाल पाएंगे।

आपको बता दें कि एटीएम से पैसे निकालने की प्रक्रिया में अक्सर ग्राहक के साथ धोखाधड़ी हो जाती है, जिसकी वजह से उनके अकाउंट से पैसे कट जाते हैं। ऐसे में ओटीपी सिस्टम के जरिए ग्राहक अपने पैसे को सुरक्षित ढंग से एटीएम से निकाल सकता है, जबकि धोखाधड़ी करने वाले लोग बिना ओटीपी के लेनदेन की प्रक्रिया पूरी नहीं कर सकते हैं।

Read Also: Money Transaction: कैश में न करें लेनदेन से जुड़े ये 5 काम, वरना आयकर विभाग भेज सकता है नोटिस