Ola Scooter से गुस्सा होकर एक शख्स ने स्कूटर को गधे से बांधा और पूरे शहर में घुमाया, देखिये Video

Ola Scooter Viral Video: इन दिनों सोशल मीडिया पर एक वीडियो बहुत तेजी से वायरल हो रहा है और लोगों के बीच में चर्चा का विषय बना हुआ है। इस वीडियो में एक्स एक्स ओला स्कूटर को गधे से बांधकर खींचता हुआ दिखाई दे रहा है और उसने तख्तियों पर लिख कर लोगों से ओला स्कूटर ना खरीदने की अपील की है।

यदि हम बात करें Ola Scooter Viral Video के बारे में इसमें जो शख्स दिख रहे हैं उनके मुताबिक उन्होंने कुछ दिन पहले एक ओला इलेक्ट्रिक स्कूटर (Ola Electric Scooter) खरीदा था। कुछ दिन तो स्कूटर ठीक-ठाक चलता रहा लेकिन अचानक से स्कूटर चलना बंद हो गया। ऐसे में उन्होंने कंपनी से संपर्क किया और अपनी परेशानी ओला कंपनी तो बताई। लेकिन ओला से उन्हें कोई संतोषजनक सेवा नहीं प्रदान हुई।

इस प्रकार के व्यवहार से वह बड़े आहत हुए जिस पर गुस्से में आकर उन्होंने उसी ओला स्कूटर को गधे से बांधकर पूरे शहर में घुमाया और दो तख्तियों पर लिखकर लोगों से अपील की वे ओला स्कूटर खरीदने से बचें। उनके विरोध के इस डिफरेंट तरीके को जिसने भी देखा वह पूरा मामला जानने के लिए उत्सुक दिखाई दिया। इसे भी पढ़ें – खेत में फसलों की निगरानी के लिए रेंट पर रखा भालू, हर दिन के लेता है 500 रुपए

देखिये Video

Ola Electric Scooter के वायरल वीडियो में दिखने वाला व्यक्ति कौन है?

एक स्थानीय न्यूज़ चैनल LetsUp मराठी की मानें तो स्कूटर खरीदने वाले शख्स का नाम सचिन गिट्टे हैं। वे महाराष्ट्र के बीड जिले के रहने वाले हैं। इन्होंने ओला स्कूटर से परेशान होकर विरोध करने का यह नायाब तरीका निकाला और देखते ही देखते इनका विरोध सोशल मीडिया पर छा गया। एक लोकल समाचार चैनल व्हाट्सएप मराठी ने अपने इंस्टाग्राम पर सबसे पहले ओला स्कूटर को गधे से बांधकर खींचते हुए सचिन गिट्टे के वीडियो को डाला था।

कितने दिन चली स्कूटर?

जब मीडिया ने सचिन बेटे से बात की तो उन्होंने मीडिया को बताया कि उन्होंने सितंबर 2021 को ओला स्कूटर बुक किया था और 24 मार्च 2022 को ओला स्कूटर उनके घर डिलीवर किया गया। उसके 6 दिनों के बाद अचानक ही स्कूटर बंद हो गया। इसे भी पढ़ें – जगदीप सिंह: दुनिया का सबसे लंबा पुलिस कर्मी, पहनते हैं 19 नंबर का जूता और हाइट है 7 फीट 6 इंच

इसके बाद उन्होंने कंपनी से संपर्क करने की कोशिश की जिसके लिए उन्होंने कस्टमर केयर को कॉल भी की लेकिन कोई संतोषजनक जवाब नहीं मिला। कई बार कॉल करने के बाद ओला कंपनी की ओर से एक मकेनिक घर पर आया और वह स्कूटर की जांच करके चला गया। लेकिन इसके बाद फिर कोई जवाब नहीं आया और न ही स्कूटर को ठीक करने कोई आया।

मजबूरन उन्होंने अपने ओला स्कूटर को गधे के पीछे बांधकर हाथ में बैनर और तख्तियां लेकर उसे सारे शहर में परेड कराई और बैनर पर ओला के विरोध में लिखा की ओला की धोखाधड़ी से सावधान रहें और स्कूटर खरीदने से बचें। और दूसरे पोस्टर पर ओला स्कूटर ना खरीदने की अपील की।

इस अलावा उन्होंने उपभोक्ता फोरम में भी अपनी शिकायत दर्ज कराई। उन्हीने फोरम से शिकायत की कि उनके द्वारा खरीदे गए स्कूटर की कंपनी द्वारा न तो वापसी की जा रही है और ना ही रिपेयरिंग की जा रही है। इसे भी पढ़ें – मिजोरम में बिना दुकानदारों के चलती हैं सैकड़ों दुकानें, विश्वास के नींव पर टिकी है सालों पुरानी परंपरा