सावधान! PAN और Aadhaar की फोटो कॉपी कराते समय रहें सतर्क, वरना आपकी ID का हो सकता गलत इस्तेमाल

PAN and Aadhaar fraud : वैसे तो बिहार से देश के सबसे ज्यादा IAS और PCS निकलते हैं लेकिन दबंगई में भी बिहार किसी से पीछे नहीं है. ठगी के मामलों में बिहार का नाम भी आता है और यहां साइबर ठगी और ऑनलाइन फ्रॉड के मामले अक्सर सामने आ ही जाते हैं. दिल्ली-पंजाब सहित कई जगहों पर पुलिस ने छापेमारी की है साथ ही बिहार में पटना, नालंदा और दूसरे जिलों में भी छापेमारी की और इसमें एक मामला सामने आया जिससे लोगों के होश उड़ गए.

आपके जरूरी डॉक्यूमेंट्स के साथ धोखाधड़ी हो जाएगी और आपको पता भी नहीं चलेगा. लोग उन डॉक्यूमेंट्स से लोन लेते हैं और लोन वसूलने जब बैंक आपके पते पर आते हैं तब आपको पता चलता है. ऐसा ही ताजा मामला बिहार के मधेपुरा सदर अनुमंडल के मुरलीगंज थाना में आया है. चलिए बताते हैं आपको इसकी पूरी डिटेल्स.

आधार और पैन कार्ड के साथ कैसे होती है छेड़छाड़

नगर पंचायत के वार्ड नंबर के जयरामपुर का है जहां पर एक फोटो स्टेट का दुकान चलाने वाले का फर्जीवाड़ा किया. यहां पीड़ित के पिता नौकरी के लिए बेटे के डॉक्यूमेंट्स की फोटो कॉपी कराने गए और दुकानदार ने उस कॉपी में कुछ एक्सट्रा निकाल लीं. इसके बाद उसी कॉपी के आधार पर मुरलीगंज के हीरो शोरूम में एक्सट्रीम बाइक फाइनेंस हुई. जब पीड़ित के खाते से EMI कटने लगी तब इसकी जानकारी मिली. इसे भी पढ़ें – आपके आधार कार्ड के जरिए हो सकता है फर्जीवाड़ा, इस आसान ट्रिक से जानें कहां-कहां हो रहा है आधार का इस्तेमाल

इसके बाद पीड़ित ने जांच-पड़ताल की तो दुकानदार के हत्थे चढ़ा तो सारी बात सामने आई. इसके बाद रविवार को पीड़ित ने मामला दर्ज कराया. पीड़ित अंकित कुमार के मुताबिक, 8 मार्च, 2022 को उसके खाते 4968 रुपये कट गया. जब उसने बैंक पता किया, तो पता चला कि हीरो फाइनेंस में कोई बाइक से एक किस्त गई है. अंकित ने दिमाग से काम लिया और खाते को सील कराया. इसके बाद कंपनी में अंकित ने सारी कहानी बताई.

कंपनी ने पूरा पेपर निकाला जिसमें फोटोस्टेट दुकानदार विजय कुमार का फोटो लगा. विजय कुमार 3-4 महीने पहले मुरलीगंज के सिनेमा हॉल चलाता था वहीं उसकी दुकान थी. इसके बाद पीड़ित अंकित ने उसका ब्यौरा निकालकर पुलिस में दिया और अभी आरोपी को गिरफ्तार करके पुलिस मामले की तह तक जा रही है.

आधार और पैन का ध्यान खुद रखें

किसी ना किसी काम के लिए आपको भी अपने आधार और पैन कार्ड की फोटोकॉपी करानी ही होती होगी. तो बिना लापरवाही किए अपने डॉक्यूमेंट्स की फोटो कॉपी अपने सामने कराएं और देखें कि कॉपी कितनी हुई है. एक्सट्रा जरा भी कुछ हो तो तुरंत इसपर एक्शन लें या फिर नजदीकी पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराएं. आधार और पैन कार्ड को सुरक्षित रखना हमारी जिम्मेदारी है, इसके बारे में आपको सरकार भी हमेशा सतर्क करती रहती है, आपको भी सावधान ही रहना चाहिए. इसे भी पढ़ें – आपके PAN Card के 10 नम्बर का कोड है बहुत खास, जानिए इसमें छिपी है कौनसी विशेष जानकारी