Homeज्ञानकहीं नाक रगड़कर, तो कहीं सूंघकर और जीभ दिखाकर, जानिए कुछ देशों...

कहीं नाक रगड़कर, तो कहीं सूंघकर और जीभ दिखाकर, जानिए कुछ देशों में मेहमान नवाजी के अनोखे तरीके को

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now

जिस तरह हमारे भारतीय संस्कृति में अतिथि को भगवान माना जाता है यानी “अतिथि देवो भव” , ठीक इसी प्रकार बहुत सारे देशों में जब किसी के घर कोई अतिथि आता है तो वह उसका अलग-अलग तरह से आदर और सम्मान करते हैं।

हमारे भारत में अगर किसी के घर कोई अतिथि आता है तो दोनों हाथों को जोड़कर प्रणाम और नमस्कार किया जाता है। इसी तरह बाक़ी देशों में भी अतिथि के स्वागत के अलग-अलग तरीके हैं, जिन्हें जानकर शायद आपको भी आश्चर्य होगा। आईए जानते हैं किस देश में कौन से तरीके को अपनाया जाता है।

1- फिलिपिंस

फिलीपींस में उनके अतिथि का स्वागत करने का तरीक़ा बहुत ही साधारण है। यहाँ जब कोई एक दूसरे से मिलता है तो उम्र में छोटे लोग बड़ों के सामने झुक कर उनके हाथों को अपने माथे से रगड़ते हैं और बदले में बड़े लोग छोटे को “मानो पा” कह कर आशीर्वाद देते हैं। इस देश का यह तरीक़ा बेहद ही अलग और साधारण भी है।

2- तवालु

समुद्र के किनारे बसा हुआ है बहुत ही खूबसूरत देश है। इस देश में अगर कोई मेहमान आता है तो उसका तरीक़ा काफ़ी अलग है उस तरीके को सोगी कहते हैं। इस तरीके के अंतर्गत स्वागत करने वाला शख़्स आने वाले अतिथि के चेहरे को दबाकर गहरी सांस लेता है और उसकी ख़ुशबू को महसूस करता है। वहाँ यही तरीक़ा प्रचलन में है।

3- तिब्बत

तिब्बत में मेहमानों के स्वागत करने का बेहद ही अनोखा तरीक़ा है। किसी को देखकर जीभ निकालते हैं तो यह उसे चिढ़ाने की तरह होता है, इस तरह करने से सामने वाला मेहमान दोबारा के घर में कभी नहीं आएगा। लेकिन तिब्बत में अगर किसी के घर कोई मेहमान आता है तो वह अपने मेहमानों को जीभ दिखाकर उसका स्वागत करते हैं।

स्वागत करने की यह प्रथा 9वीं सदी में राज करने वाले काली जुबां वाले तिब्बती राजा क्रूर लंगडरमा के दौर से ही चली आ रही है। मिलने वाले को जीभ दिखाकर स्वागत करने के पीछे के कारण को तिब्बती लोग बताते हैं कि “इसका मतलब है राजा लंगडरमा से उनका कोई सम्बंध नहीं है और न ही उनकी जीभ काली है।” इस प्रकार यह बेहद ही अनोखा तरीक़ा सिर्फ़ तिब्बत में ही प्रचलन में है।

4- ग्रीनलैंड / लैपलैंड

इस बर्फीली जगह पर रहने वाले लोग, जिन्हें एस्किमो यानी बर्फ में घर बनाकर रहने वाले लोग कहते हैं। यहाँ के लोग अपने मेहमानों का स्वागत करने में कोई कसर नहीं छोड़ते। यहाँ जिस तरीके से स्वागत किया जाता है उस तरीके को कुनिक (Kunik) कहा जाता है, जिसमें एक दूसरे की नाक को हल्के से रगड़ते है। इसके अलावा मिलने के दौरान लोग आने वाले मेहमान के बाल और गाल को सूंघकर उन्हें पहचानने की कोशिश करते हैं और इस तरह वह नए लोगों को उनके अंदाज़ और उनके तरीके से उन्हें पहचानने की कोशिश करते हैं।

5- यूक्रेन

इस देश में स्वागत करने का तरीक़ा थोड़ा बहुत फ़्रांस से मिलता जुलता है। यहाँ एक दूसरे से मिलने पर लोग गाल से गाल मिलाकर तीन बार किस करते हैं, जिसमें बाएँ गाल से शुरु होकर बाएँ गाल पर ही रुका जाता हैं। ऐसे तरीके को बॉलीवुड में सेलिब्रिटीज भी अपनाते हैं।

6- न्यूजीलैंड

यहाँ भी लोगों के स्वागत करने का एक बहुत ही ख़ास तरीक़ा है जिसे “माओरी परंपरा” (Maori culture) कहते हैं। इसके तहत स्वागत के समय “होंगी” नाम की एक रस्म भी निभाई जाती है। इस रस्म में जब दोनों लोग आपस में मिलते हैं तो नाक को छूते और रगड़ते हैं। इस रिवाज़ और नियम के पीछे एक मान्यता जुड़ी है, जिसके तहत यह कहा जाता है कि ऐसा करने से वें एक दूसरे की ज़िन्दगी की सांसों से भी जुड़ते हैं।

7- केन्या

केन्या में अपने अतिथि का स्वागत करने का बेहद मनोरंजक तरीक़ा है। यहाँ “मासई आदिवासी समुदाय” (Maasai tribal group) के लोगों के घर जब कोई मेहमान आता है तो उसके स्वागत में सबसे पहले वह लोग उन्हें कहानी सुनाते हैं उसके बाद “अदामु नृत्य” (Adamu dance) करते हैं। फिर इसके बाद सभी एक घेरे में कूदते हैं जिसमें सारे लोग यही कोशिश करते हैं कि वह सबसे ऊंचा कूदे। हम अंदाजा लगा सकते हैं कि यह कितना फनी moment होता होगा जब वह लोग ऐसा करते होंगे।

8- फ्रांस

फ्रांस में जब एक दूसरे से लोग मिलते हैं तब दोनों एक दूसरे के गाल से गाल मिलाकर हवा में किस करते हैं और इस सिलसिले को जाते समय यानी विदाई के समय भी दोहराया जाता है। इस तरीके को फ्रांस में “ला बिस” कहा जाता है।

इस तरह आज हमने आपको बताया कुछ देशों में मेहमानों के स्वागत करने के तरीके को। जिन्हें जानकर और पढ़कर आपको भी हैरानी हुई होगी।

यह भी पढ़ें
News Desk
News Desk
तमाम नकारात्मकताओं से दूर, हम भारत की सकारात्मक तस्वीर दिखाते हैं।

Most Popular