Kartik Purnima 2022 : यह है कार्तिक पूर्णिमा की असली तारीख, जल्दी से नोट कर लीजिए स्नान और दान का शुभ मुहूर्त

Kartik Purnima 2022 Kab Hai : हिंदू धर्म विश्व की सबसे पुरानी धर्म मानी जाती है और हिंदू धर्म में कई सारी ऐसी मान्यता है जिनको लोग मानते हैं। हिंदू धर्म के लोगों का मानना है कि हिंदू धर्म में बताई जाने वाली मान्यताओं को मानने से उनकी सारी मनोकामनाएँ पूरी होती है और इन्हीं मान्यताओं में से एक मान्यता कार्तिक महीने में व्रत रखने की मान्यता है। दरअसल, कार्तिक महीने में भगवान विष्णु की आराधना की जाती है और भगवान विष्णु जब अपने भक्तों से प्रसन्न होते हैं तो वह उनकी सारी मनोकामनाएँ पूरी कर देते हैं।

हिंदू धर्म के शास्त्रों की मानें तो जो लोग भी कार्तिक महीने में सच्चे मन से कार्तिक पूर्णिमा का व्रत रखकर नदी में स्नान करते हैं उनकी सारी मनोकामनाएँ पूरी होती हैं और तो और उनके पाप भी धूल जाते हैं। यही कारण है कि यह त्यौहार हिंदू धर्म के लोगों के लिए काफी ज्यादा खास माना जाता है। अगर आप भी उनमें से हैं जो कार्तिक पूर्णिमा का व्रत रखना चाहते हैं तो यह लेख आपके लिए काफी ज्यादा महत्त्वपूर्ण साबित हो सकता है।

इस दिन है साल 2022 का कार्तिक पूर्णिमा (Kartik Purnima 2022 Kab Hai)

हिंदू धर्म के पंचांग के अनुसार कार्तिक पूर्णिमा का व्रत कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष के दिन रखा जाता है और इसी दिन को कार्तिक पूर्णिमा कहा जाता है। हिंदू धर्म के पंचांग के अनुसार इस साल यानी कि साल 2022 में कार्तिक पूर्णिमा की शुरुआत 7 नवंबर को शाम 4 बजे से लेकर 8 नवंबर को शाम 4: 30 बजे तक है। लेकिन हिंदू धर्म में हर एक शुभ कार्य सूर्योदय के हिसाब से किया जाता है और दिन की शुरुआत भी सूर्योदय से ही मानी जाती है यही कारण है कि हिंदू धर्म के शास्त्रों के अनुसार इस साल यानी कि साल 2022 में कार्तिक पूर्णिमा का व्रत 8 नवंबर को रखा जाएगा।

कार्तिक पूर्णिमा का शुभ मुहूर्त (Kartik purnima shubh muhurat)

अगर आप भी कार्तिक पूर्णिमा के दिन नदी में स्नान करना चाहते हैं तो आपको बता दें कि कार्तिक पूर्णिमा के दिन स्नान करने का शुभ मुहूर्त 8 नवंबर शाम 4: 31 बजे तक का है। वही कार्तिक पूर्णिमा के दिन दान करने का शुभ मुहूर्त सूर्यास्त से पहले तक का है। यानी अगर आप हिंदू धर्म के इस बेहतरीन पर्व पर दान देना चाहते हैं तो आप कार्तिक पूर्णिमा के दिन यानी कि 8 नवंबर को सूर्यास्त से पहले दान कर सकते हैं।

कार्तिक पूर्णिमा क्यों है खास (Kartik purnima importance)

बात करें कि आखिर कार्तिक पूर्णिमा हिंदू धर्म के लोगों के लिए इतना खास क्यों है तो कार्तिक पूर्णिमा हिंदू धर्म के लोगों के लिए इसलिए इतना खास है क्योंकि कार्तिक का महीना भगवान विष्णु के लिए काफी खास महीना माना जाता है। भगवान विष्णु इस महीने में काफी ज्यादा प्रसन्न रहते हैं और ऐसे में कार्तिक मास के महीने में अगर कोई भगवान विष्णु की आराधना करता है तो भगवान विष्णु उसकी सारी मनोकामना पूरी करते हैं। यही कारण है कि कार्तिक पूर्णिमा के दिन लाखों लोग भगवान विष्णु की आराधना करते हैं।

इसे भी पढ़ें –

सूर्यकुमार यादव को नहीं पता था कि वह दुनिया के T20 के नंबर 1 बल्लेबाज हैं, एंकर ने बताया तो हो गए अचंभित

अंकिता लोखंडे ने टाइट ड्रेस में क्लीवेज दिखाकर फैंस के छुटाए पसीने, अंकिता की बोल्ड तस्वीर

तो इसलिए ऑस्ट्रेलिया में खेलना पसंद करते हैं विराट कोहली, आस्ट्रेलिया और विराट का है पुराना नाता

रिलीज से पहले ही विवादों में घिरी Shah Rukh Khan की अपकमिंग फिल्म ‘जवान’, कॉपी पेस्ट करने के लगे आरोप