लाखो रुपये कमाने का ज़रिया बन सकता है मछली पालन, विडियो के माध्यम से जाने एक्सपर्ट की राय

    प्रत्येक इंसान चाहता है कि वह ऐसा काम करें जिससे अच्छा से कमाकर धन अर्जित कर सके और खुशहाली में अपनी ज़िन्दगी बिता सके। एक ऐसे ही उदाहरण बनकर लोगों के बीच आए बिहार के वैशाली के ब्रजेश कुमार सिंह (Brajesh kumar singh) जो अपने तकनीक के माध्यम से अपने साथ-साथ अन्य किसानों को भी मछली पालन का प्रशिक्षण देकर आत्मनिर्भर बनाने की कोशिश कर रहे हैं ताकि किसान भी इनके साथ-साथ अपना ख़ुद का मछली पालन के व्यावसाय को अपना कर आगे बढ सके। ब्रजेश कुमार सिंह मछली पालन के साथ-साथ लोगों को इसकी ट्रेनिंग भी देते हैा

    मछली पालन के बिहार राज्य की मिट्टी और मौसम दोनों बेहतर है। इसको बावजुद बिहार राज्य के लोगों को मछलियो के लिए दूसरे राज्य पर आत्मनिर्भर होना पड़ता है। यहाँ के किसान भाई अगर यहाँ भी मछली पालन का व्यवसाय करें तो अच्छी खासी कमाई कर वह ख़ुद आत्मनिर्भर बन सकते है। साथ-साथ यहाँ की ग़रीबी और बेरोजगारी भी दूर हो जाएगी। बिहार के (वैशाली) जिले के रहने वाले ब्रजेश कुमार सिंह के पास बहुत ही बड़ा “बायो फलॉक प्लांट” है।

    इस विडियो के माध्यम से जाने एक्सपर्ट की राय

    मछली पालन के साथ-साथ मछली बीज का भी करते है उत्पादन

    करीब 1 एकड़ में ज़मीन में इनका बायो फ्लॉक प्लांट (Bio flock plant) लगा है। जिसने ब्रजेश कुमार सिंह मछली पालन के साथ-साथ मछली बीज (seeds) का भी उत्पादन करते है। बायो फ्लॉक प्लांट उन किसानो के लिए उपयोगी है जिनके पास अपनी ख़ुद की ज़मीन नहीं है। वैकल्पिक तौर पर वे किसान यहाँ से उन्नत क़िस्म के मछली बीज लेकर अपना ख़ुद का व्यवसाय कर सकते है। अगर किसी किसान भाई को तकनिकी सहायता कि ज़रूरत होती है तब वैसे में ब्रजेश कुमार सिंह किसान भाईयो की तकनिकी रूप से सहायता प्रदान करते है।

    Brajesh-Kumar-Singh-fish-farming-bihar

    मछली बीज से लेकर दाना और दवा सब यही से प्राप्त हो जाता है

    यहाँ से जो किसान मछली बीज की खरीदारी करते है तब उससे जुड़ी सभी महत्त्वपूर्ण चीजे जैसे-दाना, दवा इत्यादी वस्तुओ की उपलब्धता यही से करवा दी जाती है। कभी-कभी किसानो के मन में यह अशंकाए. होती है कि मछली पालन के लिए उपयोगी चीजे की खरीदारी कहाँ करे तब वैसे में ब्रजेश कुमार सिंह के द्वारा इन सभी जटिल समस्याओ का समाधान कर दिया गया है। अब किसान बंधु बेफिक्र होकर मछली पालन व्यवसाय को शुरु कर सकते है। इस व्यवसाय में लाखो की आमदनी है।

    Brajesh-Kumar-Singh-fish-farming-bihar

    नि:शुल्क निस्वार्थ की भावना से देते है मछली पालन का प्रशिक्षण

    मछली पालन को लेकर ब्रजेश कुमार सिंह चाहते है कि अपने प्रान्त के गरीब असहाय किसान भाई उनसे जुड़े और निःशुल्क ट्रेनिंग लेकर इस व्यवसाय को आगे बढ़ाए ताकि उनका जीवन खुशहाल रहे और वें आत्मनिर्भर बन सके। इनके अनुसार जो किसान मछली पालन व्यवसाय से जुड़ना चाहते है वें ब्रजेश कुमार जी से निःशुल्क प्रशिक्षण लेकर इस व्यवसाय को शुरु कर सकते है।